तुलसी के पौधों का मानव जीवन में है विशेष महत्व

1

नई दिल्ली।
तुलसी का पौधा स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत ही लाभदायक होता है। आयुर्वेद में तुलसी को औषधीय पौधा माना गया है। हिन्दू धर्म मे तुलसी का अत्यधिक महत्व माना जाता है। यह धार्मिक पौधा होने कारण घर-घर पूजा जाता है। कोई तुलसी को धर्म और आस्था से जोड़ कर देखता है, तो कोई सेहत के लाभ उठाने के लिए तुलसी का प्रयोग करता है। यही वजह है कि तुलसी का पौधा लगभग हर हिन्दू के घर में पाया जाता है।

तुलसी के पौधे को हरा-भरा रखने के उपाय

धर्म और आस्था के साथ-साथ सेहत के लिए लाभकारी तुलसी के पौधों का प्रसाद में भी काफी महत्व है। देशी नुस्खे में सर्दी-जुकाम दूर करने के लिए तुलसी के पत्तों को चाय में डालकर पीने से आराम मिलता है। घर पर तुलसी के पौधा उगाने के लिए बस आपको अपनी उंगलियों से मिट्टी में इनको छिड़क देना होता है क्योंकि तुलसी के बीज बहुत ही छोटे होते हैं।

ये भी देखें: पुदीने की खेती – Mint Planting & Harvesting in Hindi

लेकिन लोगों का मानना है कि इतने उपयोगी पौधे को हरा-भरा रखना उतना ही कठिन है। तमाम लोगों का कहना है कि तुलसी का पौधा लू-गर्मी लगने के कारण सूख जाता है। तो कुछ लोगों ने बताया कि अधिक सर्दी में ओस का शिकार होने से तुलसी का पौधा सूख जाता है।

तुलसी के पौधे को हरा-भरा रखने के ये मुख्य उपाय हैं

1 – तुलसी के पौधे को 20 सेंटीमीटर गहराई की मिट्टी लगाएं। जिससे मॉइश्चर मिट्टी मिले।
2 – बारिश के मौसम में तुलसी के पौधे में ज्यादा पानी भरा रहना नुकसानदायक है। इसलिए पौधे के नीचे सीमित पानी ही रहना चाहिए।
3 – हर महीने 2 चम्मच नीम की पत्तियों को सुखाकर उसका पाउडर तुलसी के पौधे में डालना चाहिए। इससे पौधा सूखेगा नहीं।
4 – पौधे की मिट्टी को समय-समय पर खुरपी से खोदकर इधर-उधर करते रहें।
5 – तुलसी के पौधे के लिए ऑक्सीजन की कमी नहीं रहनी चाहिए।

ये भी देखें: घर पर उगाने के लिए ग्रीष्मकालीन जड़ी बूटियां 

तुलसी के पौधे के साथ जुड़ी है धर्म और आस्था

  • तुलसी के पौधे से लोगों की आस्था जुड़ी हुई है, इसलिए अगर आप पौधे की पूजा करते हैं तो जरूर करें, मगर कोशिश करें कि रोज तुलसी के पौधे से पत्तियों को ना तोड़ें।
  • यदि आप दिया या अगरबती जलाते हैं तो पौधे से इन चीजों को दूर रखने की कोशिश करें। दरअसल धुएं और तेल से भी तुलसी को नुकसान पहुंचता है।

अगर आप ऊपर बताई हुई टिप्स को फॉलो करते हैं। तो महीने भर में ही आपको अपने सूखे हुए तुलसी के पौधे में नई पत्तियां आती दिखेंगी।

—–
लोकेन्द्र नरवार

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More