fbpx
Browsing Category

सम्पादकीय

मसूर दाल की कीमतों पर नियंत्रण की तैयारी

आम उपभोक्ताओं को ध्यान में रखते हुए केेन्द्र सरकार ने मसूर दाल के आयात पर लगने वालेे मूल सीमा शुल्क में कटौती की है। सरकार ने बुनियादी सीमा शुल्क को शून्य कर दिया है वहीं इस पर कृषि बुनियादी ढ़ांचा विकास उपकर आधा यानी 10 प्रतिशत कर दिया है।…

मानसून की कमजोर चाल से हाल बेहाल

अभी तक के आंकड़ों पर नजर डालें तो मानसून की चाल कमजोर ही रही है। बात उत्तर भारत की हो गुजरात, राजस्थान या कई अन्य राज्यों की तो हालात अच्छे नहीं रहे। दक्षिण पश्चिम मानसून की चाल हर जगह काफी कमजोर ही नजर आई है। इसका असर खरीफ की फसलों की…

किसानों के लिए बहुत किफायती हैं न्यू हॉलैंड के ये ट्रैक्टर

किसान भाइयों के लिए ट्रैक्टर खेती की जान हैं। आज के जमाने में ट्रैक्टर के बिना खेती की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। ट्रैक्टर केवल खेती का ही काम नहीं करता बल्कि किसानों के अनेक महत्वपूर्ण काम करता है। साथ ही किसानों की आमदनी का एक साधन भी…

पराली जलाने पर रोक की तैयारी

पराली पर्यावरण प्रदूषण के लिए नासूर बन चुकी है। यदि इसका ठीक उपयोग हो तो यह बहुत काम की चीज है। किसान पराली न जलाएं इस सोच को धरातल पर लाने के लिए सरकार पहले चरण में 878 करोड रुपए की धनराशि खर्च करेगी। इस धनराशि से 97.5 मेगावाट क्षमता के 11…

खेती करो या उठाओ भार,एस्कॉर्टस ट्रैक्टर रहे हमेशा तैयार

किसान भाइयों आधुनिक या उन्नत खेती किसानी अब मशीनों के भरोसे हो गयी है। इस तरह की खेती के लिए यदि आपके पास उन्नत कृषि यंत्र एवं कृषि मशीनें हैं तो अच्छी खेती करके अच्छी कमाई कर सकते हैं। इससे आपका आर्थिक स्तर भी काफी अच्छा हो सकता है। कृषि…

उत्तर भारत में 5 दिन बाद आएगा मानसून

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग यानी आईएमडी द्वारा जारी पूर्वानमान से पता चला है कि उत्तर भारत मैं मानसून 10 जुलाई के बाद ही सक्रिय होगा। मानसून 8 जुलाई को पश्चिमी तटों और मध्य भारत के पूर्वी भागों सहित दक्षिण प्रायद्वीप में प्रभावी होगा।…

किसानों का विश्वास, महिंद्रा ट्रैक्टर का साथ

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में जब सभी अपने फायदे के लिए एक दूसरे का गला काटने को तैयार रहते हैं. इसी दौर में कुछ कंपनी ऐसी भी है जो अपने ग्राहकों की स्वास्थय और काम को लेकर चिंतित रहती हैं. गावों को आज भी सुकून वाली लाइफ के लिए जाना जाता है.…

किसानों के लिए वरदान बनकर आया नैनो लिक्विड यूरिया

किसान भाइयों, आपके लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है। आप दुनिया के पहले ऐसे किसान होंगे जो अपनी खेती में यूरिया उर्वरक के इस्तेमाल में कम लागत लगाकर अधिक पैदावार करके आमदनी बढ़ा सकते हैं। क्योंकि भारत के सबसे बड़े किसान हितैषी सहकारी संगठन इफको ने नैनो…

अन्नदाता ने किया बंपर फसल उत्पादन

कोरोना काल में बड़े बड़े उद्योग धराशाई हो गए लेकिन कृषि क्षेत्र और किसान ने देश को काफी हद तक राहत दी है। पिछले साल की बात हो या वर्तमान दौर की किसान की मेहनत रंग ला ही रही है। सरकार द्वारा जारी किए गए फसलों के अग्रिम पूर्वानुमान मैं भी…

लंदन के बाद जर्मनी भेजा जैविक कटहल

हेल्दी फूड हेल्दी सोसायटी कांसेप्ट कब गतिमान होने लगा है। लंदन के बाद जर्मनी भारत का ग्लूटेन मुक्त जैविक कटहल पाउडर और पैक्ट कटहल की  10.20 मीट्रिक टन मात्रा भेजी गई है। जैविक उत्पाद समुद्री मार्ग से बेंगलुरु से भेजे गए। एपीई जैकफ्रूट…

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More