किसान भाइयों को डीजल के खर्च और प्रदूषण की मार से बचाऐगा ये ई-ट्रैक्टर

By: MeriKheti
Published on: 25-Oct-2023

किसानों का दोस्त माने जाने वाला ट्रैक्टर भी अब अपने किसान मित्रों को डीजल के खर्च की मार से बचाने के लिए इलेक्ट्रिक बैटरी से चलेगा। जी हाँ, आज हम आपको जानकारी देंगे इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड (ITPL) के इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर ITPL e-Tractors के विषय में। भारत में इलेक्ट्रिक स्कूटी से लगाकर कार एवं बसों को भी सरकार निरंतर बैटरी चालित करने की कोशिश कर रही है। इसकी मुख्य वजह तेल के प्राकृतिक सीमित संसाधनों के दोहन में गिरावट लाना है। साथ ही, भारत में ऊर्जा के नवीन आयामों को स्थापित करना भी है। बतादें, कि कृषि क्षेत्र में भी इस प्रकार के बहुत से नवीन कृषि यंत्रों का विकास हो चुका है, जिनमें कृषि ड्रोन, ग्रास कटर इत्यादि शम्मिलित हैं। परंतु, कृषि तकनीक के विकास के साथ ही फिलहाल किसानों का दोस्त कहा जाने वाला ट्रैक्टर भी फिलहाल डीजल की जगह इलेक्ट्रिक बैटरी के माध्यम से चलेगा। दरअसल, हम इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड (ITPL) के इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर ITPL e-Tractors के बारे में बात कर रहे हैं। कंपनी ने यह ट्रैक्टर 2023 में ही लॉन्च किया है। आगे हम आपको इस लेख में ट्रैक्टर की कीमत एवं विशेषताओं के विषय में जानकारी देंगे।

ITPL e-Tractors की कुछ मुख्य विशेषताऐं

ITPL e-Tractors की खासियतों की बात करें तो इसकी अधिकतम गति 30 किलोमीटर/घंटे है। यह ट्रैक्टर एक बार की चार्जिंग में लगभग 100 किलोमीटर तक चलता है। इसके अंदर 35 हॉर्स पॉवर का आउटपुट होता है। यह 300 NM का टार्क जनित कर सकता है।

ये भी पढ़ें:
ITL ने सोनालिका ट्रैक्टर्स की नई सीरीज लॉन्च करदी है

ITPL e-Tractors कितने रुपए में आता है

इस ट्रैक्टर को किसानों की सुविधा के अनुरूप तैयार गया है। यह खेतों से लगाकर किसानों के विभिन्न प्रकार के व्यावसायिक कार्यों को सुगमता से कर सकने में समर्थ हैं। साथ ही, इसकी कीमत की बात की जाए तो यह बाजार में 3 से 5 लाख के मध्य निर्धारित की गई है। यह किसानों को विभिन्न प्रकार की समस्याओं से छुटकारा भी दिलाएगा। साथ ही, इसके मेंटिनेंस यानी कि रखरखाव में भी किसानों का काफी कम खर्चा आएगा।

ITPL e-Tractors के कितने फायदे हैं

  • डीजल की अंधांधुंध खपत व खर्च से छुटकारा
  • खर्चा कम और काम ज्यादा
  • प्रदूषण से पूर्णतय मुक्ति
  • बेहद ही कम मेंटिनेंस का खर्चा
  • घरेलु एवं व्यावसायिक कार्यों में सहायक

भविष्य में यह ट्रैक्टर मील का पत्थर साबित होगा

नई बुलंदियों को छूने वाली कृषि क्षेत्र की दृष्टि से यह ट्रैक्टर वर्तमान के साथ-साथ भविष्य के लिए भी बेहद काम आने वाला है। भारत सहित विश्व भर में प्राकृतिक तौर पर मिलने वाले पेट्रोल, डीजल की अपेक्षा यही ट्रैक्टर्स ले लेंगे। इसकी वजह यह है, कि यह विद्युत चालित होते हैं। इनके कम मेंटिनेंस के खर्च एवं चलने में सहजता की वजह से यह किसानों की प्रथम पसंद भी बना हुआ है।

ये भी पढ़ें:
स्वराज ट्रैक्टर द्वारा 40-50 एचपी श्रेणी में नई ट्रैक्टरों की सीरीज लॉन्च की गई है

E-Tractors को प्रोत्साहन देने के लिए अनुदान भी दिया जाता है

आपकी जानकारी के लिए बतादें कि यदि कोई भी किसान इस तरह के ई-ट्रैक्टर को खरीदना चाहता है, तो सर्व प्रथम उसे सरकार की तरफ से जारी योजनाओं के मुताबिक मिलने वाले अनुदान के संबंध में भी जानकारी होनी बेहद आवश्यक है। वर्तमान में बहुत-सारी राज्य सरकारें भी e-Tractors की खरीद के लिए अनुदान धनराशि उपलब्ध करा रही हैं। आपको इसके लिए अपने समीपवर्ती कृषि विज्ञान केंद्र अथवा अन्य सरकारी कृषि विभाग से जानकारी को इकठ्ठा करने के उपरांत ही खरीदना चाहिए।

श्रेणी