झींगा पालन करके कमाएं बम्पर मुनाफा, मिलती है सब्सिडी, जानें कैसे

Published on: 07-Dec-2022

आप अगर व्यवसाय शुरू करके बढ़िया लाभ कमाना चाहते हैं, तो झींगा पालन जरूर करें। झींगा का व्यपार करके लोग बढ़िया मुनाफा अर्जित कर रहे हैं। घरेलू बाजार में ताजा झींगा की तुलना में जमे हुए झींगा की बहुत ज्यादा मांग हैं। व्यवसाय करने वालों के लिए झींगा पालन करना बहुत ही अधिक लाभदायक है। जलीय कृषि क्षेत्र में झींगा पालन एक फलता-फूलता व्यवसाय है। यह एक मल्टीबिलियन-डॉलर का उद्योग है, और सबसे अच्छी बात यह है, कि कोई भी व्यक्ति छोटे पैमाने पर भी झींगा फार्म को चला सकता है और बेहतर मुनाफा अर्जित कर सकता है।

ये भी पढ़ें:
छत्तीसगढ़ में मिला मछली पालन को कृषि का दर्जा, जाने किसानों के लिए कैसे है सुहाना अवसर
यदि आप इस व्यापार को करके बेहतर मुनाफा के साथ-साथ उच्च गुणवत्ता वाले झींगा का उत्पादन करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको प्रशिक्षण लेना आवश्यक है। नई तकनीक के साथ आपको आवश्यक उपकरण जिससे झींगा पालन करने मे आसानी हो उसे जानना और समझना चाहिए। इस व्यापार में भारी निर्यात क्षमता है, विशेष रूप से घरेलू बाजार में जहां ताजा झींगा की तुलना में जमी हुई झींगा बेचना अधिक लाभदायक है।

झींगा की खेती शुरू करने से पहले इन बातों का रखे विशेष ध्यान:

झींगा की कितनी विभिन्न प्रजातियाँ हैं? किस प्रजाति के झींगा का पालन करने से बेहतर मुनाफा अर्जित करना आसान होगा?

ये भी पढ़ें:
जानिये PMMSY में मछली पालन से कैसे मिले लाभ ही लाभ
झींगा पालन करने से पहले आपको स्थानीय झींगा बाजार की प्रतिस्पर्धा और मांग के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करनी होगी। नजदीकी कृषि अनुसंधान कार्यालय से जानकारी प्राप्त करनी होगी और पता करना होगा कि झींगा पालन के लिए कौन से लाइसेंस की आवश्यकता होती है। एक व्यावसायिक झींगा फार्म चलाने के लिए, अधिकांश राज्यों को आपको एक्वाकल्चर परमिट खरीदने की आवश्यकता होती है। अपने झींगा फार्म को स्थापित करने के लिए आपके पास कई प्रकार के विकल्प हैं। तालाब, विशाल टैंक, स्विमिंग पूल, और कोई भी अन्य जल भंडारण सुविधाएं शामिल हैं। झींगा मछली पालन की एक एकड़ जमीन पर खोदे गए तालाब से करीब 4 हजार किलोग्राम झींगा पैदा किया जा सकता है। जिनका खुले बाजार में मूल्य 350 से 400 रूपये प्रतिकिलों तक होता है, जो मछलियों के मूल्य से अधिक है। एक एकड़ भूमि में झींगा मछली पालन से एक बार में 5 लाख तक की शुद्ध आय हो सकती है। झींगा मछली औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इसमें काफी मात्रा में विटामिन और खनिज लवण पाए जाते हैं। झींगा मछली विटामिन डी से भरपूर होने के कारण इसका उपयोग त्वचा संबंधी रोगियों के लिए बहुत लाभदायक होता है। [embed]https://www.youtube.com/watch?v=stwIUBJpMGE&t=8s[/embed] झींगा पालन मे रुचि रखने वाले किसान अपने नजदीकी जिले के मछली पालन, पशुपालन और डेयरी विकास मंत्रालय के कार्यालय में संपर्क करके और भी अधिक जानकारी प्राप्त करके इस व्यवसाय को शुरू करके बेहतर मुनाफा अर्जित कर सकते है।

श्रेणी