भारत- इजरायल का कृषि क्षेत्र में समझौता

0

भारत और इजरायल के बीच द्विपक्षीय समझौता हुआ है। इस समझौते के चलते भारत में इजराइली कृषि तकनीकों की क्षमता का प्रयोग किसानों के हित में और तेजी से किया जा सकेगा। इस क्रम में कृषि परियोजना उत्कृष्टता केंद्र एवं उत्कृष्टता गांव का विचार फलीभूत किया जाएगा।

एकीकृत बागवानी मिशन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय एवं इजरायल एजेंसी के सहयोग से भारत के 12 राज्यों में 29 केंद्र संचालित हैं। उन केंद्रों पर स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार इजराइली तकनीकी का धरातल पर प्रयोग किया जा रहा है। यहां किसानों को भी इजराइली तकनीकी से प्रशिक्षित किया जा रहा है। उल्लेखनीय है के उक्त केंद्रों पर 25 मिलियन से अधिक गुणवत्ता युक्त सब्जी के पौधे, 387 हजार से अधिक फल पौधे और 1.2 लाख से अधिक किसानों को बागवानी के क्षेत्र में नवीनतम तकनीक के बारे में प्रशिक्षित करते हैं।

इस समझौते पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कृषि हमारी प्राथमिकता का केंद्र है। सरकार की कृषि नीतियों से किसानों के जीवन में परिवर्तन आया है। भारत और इजराइल 1993 से द्विपक्षीय संबंध कायम किए हुए हैं और यह पांचवा है। हमने 4 कार योजना को सफलतापूर्वक पूर्ण कर लिया है। किसानों की माली हालत सुधारने की दिशा में दोनों देश मिलकर काम करेंगे। इजराइल मॉडल बागवानी के क्षेत्र में उत्तरोत्तर प्रगति के रास्ते प्रशस्त करेगा।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More