अन्य राज्यों से होता हुआ अब झारखंड में भी पहुंचा लम्पी रोग, राज्य सरकार हुई अलर्ट

0

देश में कहर बरपा रहा ‘लम्पी स्किन डिजीज‘ या एलएसडी (LSD – Lumpy Skin Disease) रोग, अब कई राज्यों से होता हुआ झारखंड में भी पहुंच गया है। ये संक्रमण राज्य के कई जिलों में पैर पसार रहा है, जिसने सरकारी अधिकारियों की रातों की नींद खराब कर दी है। इस लंपी रोग से मवेशी लगातार संक्रमित हो रहे हैं। अगर इसे नहीं रोका तो यह रोग राज्य में तेजी से फ़ैल सकता है और ज्यादा से ज्यादा मवेशियों को अपनी चपेट में ले सकता है, हालांकि अभी तक राज्य में आधिकारिक तौर पर किसी भी मवेशी के मरने की पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन इसके बावजूद भी हजारों की संख्या में मवेशी बीमार बताये जा रहे हैं।

लम्पी स्किन डिजीज एक संक्रामक रोग है, जो संक्रमित पशुओं के संपर्क में आने से अन्य पशुओं के ऊपर फ़ैल जाता है। इसके अलावा यह रोग एक ही बर्तन में पानी पीने से तथा मच्छरों, मक्खियों, जूँ और ततैया के माध्यम से भी एक मवेशी से दूसरे मवेशी तक फैलता है। यह पशुओं के लिए बेहद घातक होता है। संक्रमण ज्यादा फैलने से पशुओं की मौत भी हो सकती है।

ये भी पढ़ें: लम्पी स्किन डिजीज (Lumpy Skin Disease)

प्रारंभिक तौर पर इस रोग से संक्रमित मवेशी रांची और देवघर में पाए गए हैं, जिनके मामलों को देखते ही सरकार चिंतित हो गई है। इसलिए सरकार ने इस बीमारी को और अधिक फैलने से रोकने के लिए राज्य के 24 जिलों में तत्काल एडवाइजरी जारी की है, जिसमें बताया गया है कि किसी भी पशु में लम्पी रोग के लक्षण दिखने पर उसके नमूने तत्काल जांच के लिए भेजें।

इस साल इस रोग के मामले देश भर में बेहद तेजी के साथ बढ़ रहे हैं जिसको देखकर राज्य सरकार चिंतित है। झारखंड में एक साल पहले भी इस रोग के मामले आये थे, तब सरकार ने बहुत जल्दी ही इस रोग पर काबू पा लिया था। लेकिन इस साल परिस्थियां अलग हैं, सरकार को इन परिस्थियों के साथ रोग पर काबू पाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी होगी। सरकार ने किसानों को सलाह दी है कि जिन पशुओं में लम्पी रोग के लक्षण दिखें, उन्हें अन्य पशुओं से तुरंत अलग करके आइसोलेट कर दें।

अभी तक यह स्किन लम्पी रोग देश भर में कहर बरपा रहा है, इस रोग के कारण गायों की त्वचा में गाठें पड़ जाती हैं। मवेशी को तेज बुखार रहता है तथा दुग्ध उत्पादन में भी कमी आती है। अभी तक भारत में 3 लाख से ज्यादा मवेशी इस रोग से संक्रमित हो चुके हैं जबकि लगभग 57 हजार मवेशियों की इस रोग की वजह से मौत हो चुकी है।

ये भी पढ़ें: दिल्ली सरकार ने की लम्पी वायरस से निपटने की तैयारी, वैक्सीन खरीदने का आर्डर देगी सरकार

हर राज्य की राज्य सरकार इस रोग से निपटने का भरपूर प्रयास कर रही है। इसके तहत मवेशियों को वैक्सीन लगवाई जा रही है। लम्पी रोग की वजह से दुग्ध उत्पादन में भी भारी कमी आई है। इसको लेकर आम लोग भी भयभीत हैं, कई राज्यों में लोगों ने इस रोग के डर से दूध पीना बंद कर दिया है। इन घटनाक्रमों को देखते हुए सरकार बेहद चिंतित है और जल्द से जल्द इस रोग से निपटने के उपायों पर विचार कर रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More