fbpx
Browsing Category

पशुपालन

लोबिया की खेती: किसानों के साथ साथ दुधारू पशुओं के लिए भी वरदान

लोबिया को बहुत ही पोषक फसल माना जाता है। इसको पूरे भारत भर में उगाया जाता है। लोबिया के बहुआयामी उपयोग है। जैसे खाद्य, चारा, हरी खाद और सब्जी के रूप में होता है।लोबिया मनुष्य के खाने का पौष्टिक तत्व है तथा पशुधन चारे का अच्छा स्रोत भी है|…

बाजरा उत्पादों के प्रचार के लिए सरकार ने बनाई योजना

बाजरा और बाजरा उत्पादों के निर्यात में वृद्धि की संभावनाओं को देखते हुए और सरकार द्वारा पोषक अनाजों के बाजरा क्षेत्र के विकास पर ध्यान देने के चलते, एपीईडीए, भारतीय अनुसंधान संस्थान (आईआईएमआर) और राष्ट्रीय पोषण संस्थान सीएफटीआरआई जैसे…

पशु चारे की उन्नत किस्म विकसित

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय,हिसार के कृषि वैज्ञानिकों ने पशुओं के चारे की फसल ज्वार की नई व उन्नत किस्म ‘सीएसवी 44 एफ’ विकसित कर विश्वविद्यालय के नाम एक और उपलब्धि दर्ज करवा दी है। ज्वार की इस किस्म को विश्वविद्यालय के…

अब किट से होगी पशु के गर्भ की जांच

मादा पशुओं की गर्भावस्था का पता लगाना अब आसान हो गया है। केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान हिसार के वैज्ञानिकों ने मूत्र आधारित गर्भावस्था जांच की तैयारी कर ली है। इसी के माध्यम से बेहद कम समय में ही पशु के मूत्र के माध्यम से जांच हो सकेगी…

पशुओं का दाना न खा जाएं पेट के कीड़े

पशुओं के पेट में अंतः परजीवी पाए जाते हैं। यह पशु के हिस्से का आहार खा जाते हैं। इसके चलते पशु दुग्ध उत्पादन की दृष्टि से कमजोर पड़ जाता है और शारीरिक विकास दृष्टि से भी कमजोर हो जाता है। यह कई अन्य बीमारियों के कारण भी बनते हैं।…

डेयरी के लिए सस्ता हुआ किसानों को कर्ज मिलना

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में 24 जून 2020 को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में कई ऐतिहासिक निर्णय लिए गए, जो कि विभिन्न क्षेत्रों में पशुपालन बुनियादी ढांचा को मजबूत करने की दिशा में एक लंबा सफर तय करेंगे, जो महामारी के…

पशु पालन और किसान

दूध और किसान एक दूसरे के पर्यायवाची होते हैं बिना दूध या पशु पालन के किसान का काम नहीं चल सकता. पशु पालन  से किसान को दूध तो मिलता ही है उसके साथ-साथ उसे गोबर के रूप में खेत के लिए खाद भी मिलता है जिससे उसकी निर्भरता रासायनिक खाद पर कम…

गजब का कारोबार ब्रायलर मुर्गी पालन

देसी मुर्गी से साल में औसतन 60 से 80 अंडे प्राप्त होते हैं वाइट 11 से 240 से 3 से एवं रोड आयरन से 210 से 260 घंटे प्राप्त होते हैं। चीजों की सही देखभाल 1 दिन से लेकर 6 हफ्तों या 20 सप्ताह तक करनी होती है। अंडे वाली मुर्गी की देखभाल इससे…

कोरोना मरीजों पर कितना कारगर होगा बकरी का दूध

बकरी का दूध बहुत से लोगों को भले ही पसंद नहीं आता लेकिन उसके फायदे बहुत हैं।औषधीय गुणों के कारण यह विशेष गंध वाला होता है। इसे अब आम लोग भी समझने लगे हैं। इसलिए डेंगू जैसे रोगों के मरीजों के लिए इसकी मांग लगातार बढ़ी है।जरूरत इस बात की…

कोरोना का कहर पोल्ट्री उद्योग पर

कोरोनावायरस का कहर पोल्ट्री उद्योग पर भी पड़ा है। कोरोना का कोहराम जैसे ही शुरू हुआ वैसे ही नानवेज उत्पादों की खपत में कमी आनी शुरू हो गई है। मीट के लिए पाले जाने वाले खरगोश, मुर्गी, ईमू, तीतर, बटेर, बकरी आदि सभी का उपभोग लोगों ने कम कर…

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More