Browsing Category

पशुपालन

ठंड के दिनों में घटी दूध की आपूर्ति

दूध के बाजार में इस बार अजीब उथल पुथल की स्थिति है। यह ओमेक्रोन के खतरे के चलते है या महंगे भूसे, दाने चारे के कारण या किसी और वजह से कह पाना आसान नहीं है लेकिन हालात अच्छे नहीं हैं। गुजरे कोरोनाकाल में दूध के कारोबार पर बेहद बुरा असर…

जानिए कैसे करें बरसीम,जई और रिजका की बुआई

पशुओं को पौष्टिक आहार देने के लिए हरे चारे की जरूरत होती है। हरे चारे के लिए बरसीम, जई और रिजका की खेती बहुत ही फायदे वाली है। बरसीम के शुष्क पदार्थ में पाचनशीलता 70 प्रतिशत होती है तथा 20 प्रतिशत प्रोटीन होता है। बरसीम की तरह जई भी रबी के…

ठण्ड में दुधारू पशुओं की देखभाल कैसे करें

पशुपालन किसानों का सहायक व्यवसाय है। कृषि में मशीनी युग आने के बाद दुधारू पशुओं के पालन का कार्य किया जा रहा है। इन दुधारू पशुओं के पालने से किसानों को काफी आय प्राप्त होती है। सर्दियों में दुग्ध उत्पादन और पशुओं की सेहत दुरुस्त रखने के लिए…

पशुपालन के लिए 90 फीसदी तक मिलेगा अनुदान

दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिए जरूरी दुधारू पशुओं का पालन करने वाले किसानों को सरकार की ओर से 25 से 90 फीसदी तक छूट प्रदान की जा रही है। उद्देश्य यही है कि इस येाजना का लाभ लेकर किसान खेती के साथ पशुपालन की दिशा में भी आगे आएं। यह योजना…

जानिए खुरपका-मुंहपका रोग के लक्षण और उसका बचाव

बरसात का सीजन आते ही पशुओं में खुरपका मुंहपका रोग का संक्रमण तेज हो जाता है। इस रोग के निदान के लिए राज्य सरकार नि:शुल्क वैक्सीनेशन अभियान चलाती हैं लेकिन गाभिन पशुओं को वैक्सीन न लगाने की पृवृत्ति के चलते रोग संक्रमण एक पशु से दूसरे पशुओं…

मवेशियों का काल बनी आंत की टीबी

आंत की टीबी दुधारू पशुओं के लिए बर्बादी का शबब बन रही है। उत्तर प्रदेश के कई जिलों में आवारा घूमने वाले देशी गौवंश की बर्बादी का कारण भी प्रमुख रूप से आंत की टीबी ही है। इस रोग की वेक्सीन भी तैयार है लेकिन सरकार का इस ओर ध्यान नहीं।…

आधुनिक तकनीक से मिलेगी आवारा पशुओं से मुक्ति

आवारा पशुओं की समस्या देश के कई राज्यों में किसानों को अच्छा खासा नुकसान पहुंचा रही है। इस दिशा में सरकार ने नई पहल शुरू की है। इसके लिए बेसहारा पशुओं की तस्वीर ई-पोर्टल पर अपलोड करनी पड़ेगी। इस तस्वीर को आधार बनाते हुए संबंधित लोग पशु को…

कम पैसे में उगायें हरा चारा, बढ़ेगा दूध, बनेगा कमाई का सहारा

हमारे किसान भाइयों के लिए पशुपालन बहुत बड़ा सहारा है। पशुपालन का काम अच्छी तरह से हो और उससे होने वाला दुग्ध उत्पादन अच्छा हो तो किसानोंं को काफी अच्छी आय हो सकती है। पशुपालन के लिए पौष्टिक एवं संतुलित आहार का प्रबंधन करना सबसे महत्वपूर्ण…

पशुओं के सूखे चारे के रूप में इस्तेमाल की जा सकती है लेमनग्रास

किसान भाइयों लेमनग्रास वास्तव में एक चमत्कारिक पौधा है। इस सगंध पौधे की खेती इसके तेल बेचने के लिए की जाती है। ऊसर,बंजर, रेतीली जमीन में आसानी से लगने वाले लेमन ग्रास की खेती में बहुत कम लागत आती है। इसकी खेती की खास बात यह है कि एक बार…

पशुओं का दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए करे ये उपाय, होगा दोगुना फायदा

किसान भाइयों आजकल दूध और दूध से बने पदार्थ की बहुत मांग रहती है। पशुपालन से किसानों को बहुत लाभ मिलता है। पशुपालन का असली लाभ तभी मिलता है जब उसका पशु पर्याप्त मात्रा में दूध दे और दूध में अच्छा फैट यानी वसा हो। क्योंकि बाजार में दूध वसा के…

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More