Browsing Category

मुर्गी पालन (Poultry)

मुर्गी पालन की आधुनिक तकनीक (Poultry Farming information in Hindi)

मुर्गी पालन (Poultry Farming) किसानों के द्वारा स्थानीय स्तर पर मुर्गी पालन (पोल्ट्री फार्मिंग, Poultry farming)या कुक्कुट पालन (kukkut paalan) का व्यवसाय पिछले एक दशक में काफी तेजी से बढ़ा है। इसके पीछे का मुख्य कारण यह है कि पिछले…

गजब का कारोबार ब्रायलर मुर्गी पालन

देसी मुर्गी से साल में औसतन 60 से 80 अंडे प्राप्त होते हैं वाइट 11 से 240 से 3 से एवं रोड आयरन से 210 से 260 घंटे प्राप्त होते हैं। चीजों की सही देखभाल 1 दिन से लेकर 6 हफ्तों या 20 सप्ताह तक करनी होती है। अंडे वाली मुर्गी की देखभाल इससे…

कोरोना का कहर पोल्ट्री उद्योग पर

कोरोनावायरस का कहर पोल्ट्री उद्योग पर भी पड़ा है। कोरोना का कोहराम जैसे ही शुरू हुआ वैसे ही नानवेज उत्पादों की खपत में कमी आनी शुरू हो गई है। मीट के लिए पाले जाने वाले खरगोश, मुर्गी, ईमू, तीतर, बटेर, बकरी आदि सभी का उपभोग लोगों ने कम कर…

मुर्गी पालन उभरता हुआ कारोबार

आहार में मांस और अण्डों का समावेश होने के साथ ही मुर्गी पालन एक उभरता हुआ कारोबार सिद्ध हो रहा है। दूर दराज के गांव से लेकर बड़े कस्बों तक मुर्गी फार्म देखे जा सकते हैं। किसानों के पास अनेक कार्यो के बाद भी कुछ समय बचता है। इसके अलावा…

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More