बरसात के साथ बढ़ेगी ठंड

Published on: 19-Nov-2021
बरसात के साथ बढ़ेगी ठंड
फसल बागवानी फसल करेला

गुजरे दशकों में मध्य नवंबर के बाद हल्की और तेज बरसात के साथ ठंड का आगाज होता हैंं। 31 दिसंबर की आखिरी तारीख घने कोहरे के आगाज का पहला दिन होती है। इस बार बरसात को लेकर मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जारी कर दिया है। इससे देश के अधिकांश हिस्सों में बूंदाबांदी और बरसात का योग बना हुआ है। बरसात से पछती धान की खेती वाले इलाकों में गेहूं की बिजाई का कार्य प्रभावित होगा वहीं सरसों की समय से बिजाई कर चुके किसानों को बेहद लाभ होगा। ये भी पढ़े : जानिए चने की बुआई और देखभाल कैसे करें

कब और कहां होगी बरसात

मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने से कई राज्यों में बरसात की संभावना है। 18 से 19 तारीख के मध्य तमिलनाडु एवं तटीय आंध्र प्रदेश में भारी बरसात, छत्तीसगढ़ में 18 को हल्की बरसात, मध्य प्रदेश में हल्की बरसात की संभावना है। राजस्थान में 18 से 20 नवंबर के मध्य हल्की एवं मध्यम बरसात होने की संभावना बनी हुई है। 19—20 को गुजरात के कई इलाकों में हल्की एवं मध्यम बरसात होने की संभावना बनी हुई है। देश के अधिकांश राज्यों में हल्की एवं मध्यम बरसात होने के साथ ही तापमान में गिरावट होगी। ठंड का प्रभाव बढ़ना गेहूं की फसल के विकास के लिए आवश्यक होता है। इसी के चलते मध्य नवंबर के बाद मौसम बदलता है और ठंड में तेजी आती है।

श्रेणी