मध्य प्रदेश में बाढ़ प्रभावित किसानों को मिली सहायता, 202 करोड़ रुपए हुए जारी

Published on: 11-Oct-2022

मध्य प्रदेश में इस साल सामन्य से ज्यादा वर्षा दर्ज की गई है। कई जिलों में बरसात के पिछले कई सालों के रिकॉर्ड टूट गए हैं। वर्षा के कारण शहरों से लेकर ग्रामीण लोगों का जनजीवन बेहद प्रभावित हुआ है। किसानों को इस बरसात से भारी नुकसान हुआ है, जिसको देखते हुए मध्य प्रदेश शासन ने किसानों की सहायता करने का निर्णय लिया है। मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारी वर्षा की वजह से सबसे ज्यादा प्रभावित 19 जिलों के किसानों को सिंगल क्लिक के माध्यम से 202 करोड़ 64 लाख रुपये की सहायता राशि ट्रांसफर की है। इन 19 जिलों में विदिशा, सागर, गुना, रायसेन, दमोह, हरदा, मुरैना, आगर-मालवा, बालाघाट, भोपाल, अशोकनगर, सीहोर, नर्मदापुरम, श्योपुर, छिंदवाड़ा, भिंड, राजगढ़, बैतूल और सिवनी जिले का नाम शामिल है।

ये भी पढ़ें: कृषि सब्सिडी : किसानों को दी जाने वाली विभिन्न प्रकार की वित्तीय सहायता के बारे में जानें
अगर इस साल भारी वर्षा से प्रभावित रकबे की बात करें, तो यह लगभग 2 लाख 2 हजार 488 हेक्टेयर है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ इस मीटिंग में सम्बंधित जिलों के कलेक्टर और कृषि विभाग के अन्य अधिकारी वर्चुअली रूप से शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस और मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि प्रदेश में अति वृष्टि का बेहद बीरीकी से अध्ययन किया गया है। बाढ़ का पानी उतरने के बाद हर गांव का सर्वे करवाया गया है। मकानों के क्षतिग्रस्त होने और घरेलू सामग्री के नुकसान और पशु हानि के लिए मध्य प्रदेश शासन पहले ही 43 करोड़ 87 लाख रूपये की राशि वितरित कर चुका है। अब तक पूरे प्रदेश में 1 लाख 91 हजार 755 किसानों के खातों में सहायता राशि भेजी जा चुकी है।

ये भी पढ़ें: प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से किसानों को क्या है फायदा
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने किसानों को राहत राशि अंतरित करते वक़्त कुछ हितग्राहियों से भी चर्चा की। शिवराज सिंह चौहान के साथ चर्चा में विदिशा जिले के मनमोहन सिंह दांगी, सागर के संजीव विश्वकर्मा और गुना जिले के रंगलाल ऑनलाइन माध्यम से शामिल हुए। इस दौरान मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने मीडिया को बताया कि इस साल प्रदेश के 23 जिलों में सामान्य वर्षा हुई है, वहीं 26 जिलों में अधिक वर्षा हुई है तथा 3 जिलों में अत्याधिक बरसात हुई है। मुख्यमंत्री ने बिना देर किये हुए सभी प्रभावित  लोगों को जल्द से जल्द आर्थिक सहायता मुहैया करवाई है।

श्रेणी
Ad
Ad