बरसात आने से किसानों के चेहरे पर आई मुस्कान, इससे फसलों को जरूर फायदा मिलेगा

By: MeriKheti
Published on: 12-Sep-2023

धान बाजरा के लिए बारिश बेहद जरूरी होती है। साथ ही, किसानों के लिए पश्चिमी यूपी के विभिन्न जनपदों में हुई बरसात से कृषकों को फायदा मिलेगा। मौसम विभाग की ओर से विगत दिनों दिल्ली, बिहार, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड समेत कई सारे राज्यों में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया था। मौसम विभाग का अनुमान पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों के लिए सही सिद्ध हुआ। यूपी के बहुत से शहरों में जमकर बारिश हुई है, जिससे जगह-जगह पर जलभराव हो गया। जहां आम लोगों को बरसात की वजह से कठिनाइयों का समाना करना पड़ा तो वहीं किसानों के चेहरों पर खुशी भी देखने को मिली। विशेषज्ञ भी इस बरसात को फसलों के लिए वरदान बता रहे हैं।

किसानों का इस पर क्या कहना है

किसानों का कहना है, कि धान की फसल के लिए ये बरसात अत्यंत आवश्यक थी। अब उनकी फसल की उपज भी काफी अच्छी होगी। किसान मुकेश ठेनुआ का कहना है, कि विगत कई दिनों से भीषण गर्मी थी, जिस वजह से खेतों को सिंचाई की काफी जरूरत थी। मगर इस बारिश से खेतों की आवश्यकता पूरी हुई है। खेतों में लगी सब्जी की फसलों हेतु यह बरसात बेहद लाभकारी है। ये भी पढ़े: भारत के इन हिस्सों में होने वाली है बारिश, IMD ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है

मौसम विभाग द्वारा अलर्ट जारी किया गया था

मौसम विभाग की ओर से विगत दिनों उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों में तीव्र बरसात की संभावना जताई थी। मौसम विभाग ने महोबा, झांसी, कानपुर नगर, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली, आगरा, हाथरस, अलीगढ़, फिरोजाबाद, इटावा, जालौन और हमीरपुर आदि जनपदों में बारिश होने की संभावना जताई गई थी।

विशेषज्ञों का इस पर क्या कहना है

वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. एस आर सिंह का कहना है, कि इस बरसात से निश्चित ही फसलों को फायदा होगा। उन्होंने बताया कि आज हुई बारिश सभी फसलों के लिए अत्यंत आवश्यक थी। इस वक्त फील्ड में उपस्थित समस्त फसलों के लिए बारिश का पानी बेहद काम का है। इससे कोई भी हानि नहीं है। पानी की कमी के चलते फसलें काफी प्रभावित थीं। परंतु, आज हुई बरसात से काफी हद तक ये कमी पूरी होगी। विशेषज्ञों का कहना है, कि धान, बाजरा, सब्जियों, उर्द, मूँग आदि के लिए पानी काफी ज्यादा जरूरी था। तेज धूप और गर्मी के चलते खेतों को सिंचाई की जरूरत थी।

श्रेणी