लैंटाना के फूल को अपने घर गमले में लगाकर आर्थिक तंगी दूर करें

Published on: 30-Jul-2023

लैंटाना फूल के विभिन्न फायदे हैं, इसे घर में रखना काफी शुभ है। आज हम आपको इस लेख में इसके फायदों के संदर्भ में बात करेंगे। लैंटाना फूल काफी ज्यादा सुगंधित होता है। लैंटाना अपनी सुगंध के लिए यह विश्व भर में प्रसिद्ध है। लैंटाना के फूल रंगबिरंगे होते हैं। यह फूल सफेद, गुलाबी, पीला, नारंगी और लाल आदि रंगों में मिल जाऐंगे। यह उसकी खूबसूरती का प्रमुख कारण है। इसलिए ही इन्हें बगीचों में और घर के गमलों में उगाया जाता है। इस फूल को घर में लगाने के अनेकों लाभ होते हैं। माना जाता है, कि यह फूल किसी भी घर की आर्थिक समस्याओं को दूर कर सकते हैं। तो आइये जानें इस फूल को गमले में उगाने का सरल तरीका।

लैंटाना के फूल कीड़ों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं

लैंटाना के फूल छोटे और बटोहियों में इकठ्ठे होते हैं, जो उन्हें बहुत ही आकर्षक बनाते हैं। इनको अंडे की भाँति गुच्छे में देखा जा सकता है, जिनमें एक से ज्यादा रंगों के फूल होते हैं। यह फूल छोटे गोल आकार के होते हैं, जो बगीचों में खूबसूरत जीवाणु को आकर्षित करते हैं। लैंटाना फूल की एक और खासियत यह है, कि यह बेहद तीव्रता से विकसित होते हैं। आहिस्ते-आहिस्ते यह संपूर्ण बगीचे में भर जाते हैं। मुख्य बात यह है, कि कट जाने के पश्चात भी यह फूल पुनः उग जाते हैं। इसके पौधों के छोटे टुकड़े भी अपने आप में जुड़ जाते हैं और नए पौधे उगने शुरू हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें: 
किसान जुलाई-अगस्त में इन फूलों की पैदावार कर अच्छा मुनाफा उठा सकते हैं

लैंटाना आपके घर की सुंदरता बढ़ाता है

गमले के अंदर लैंटाना उगाना आपके बालकनी के लिए लाभकारी और खूबसूरत हो सकता है। ऐसे गमला का चयन करें जिनकी साइज कम से कम 12 इंच (30 सेमी) हो और जल निकासी हेतु नीचे छेद हो। लैंटाना के फूल किसी भी तरह की मृदा में उग सकते हैं। लैंटाना के पौधे को उसके नर्सरी कंटेनर से धीरे से निकालें और गमले के बिल्कुल मध्य में रखें। पौधे के चारों तरफ बची हुई जगह को पॉटिंग मिक्स से भरें। लैंटाना पूरी धूप में पनपते हैं, इस वजह से गमले को ऐसी स्थान पर रखें जहां पर प्रतिदिन कम से कम 6 से 8 घंटे सूरज का प्रकाश मिलता है। अगर आप इसे घर के अंदर उगा रहे हैं, तो इसको धूप वाली खिड़की के समीप रखें।

ये भी पढ़ें:
घर की बालकनी को गुलाब के फूलों से महकाने का आसान तरीका

लैंटाना फूल का इस्तेमाल किन बीमारियों के इलाज में किया जाता है

रोपण के पश्चात पौधे को बेहतरीन ढ़ंग से पानी दें और मृदा को समान रूप से नम रखें। लैंटाना के फूल झाड़ीदार हो जाते हैं, इस वजह उनके आकार को व्यवस्थित रखने और ज्यादा खिलने के लिए कभी-कभी छंटाई की जरूरत होती है। लैंटाना सामान्य रूप से अधिकांश कीटों और बीमारियों के प्रति प्रतिरोधी होते हैं। लैंटाना फूल घर के लिए बेहद शुभ माने जाते हैं। इससे आर्थिक समस्या दूर रहने के साथ-साथ घर में शांति भी बनी रहती है। लैंटाना के कुछ लाभकारी औषधीय गुण हो सकते हैं, जैसे कि इसके पत्तों और पुष्पों का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के दर्द, घाव एवं सूजन के उपचार में किया जा सकता है। हालांकि, यह उपचार डॉक्टर के परामर्श के मुताबिक ही किया जाना चाहिए।

श्रेणी
Ad
Ad