डॉ हरिशंकर गौड़ बने बीमा सलाहकार समिति के सदस्य

By: MeriKheti
Published on: 03-Oct-2023

डॉ हरिशंकर गौड़ एक बेहतरीन कृषि वैज्ञानिक हैं। डॉ हरिशंकर ने अपना पूरा जीवन कृषि के लिए समर्पित कर दिया। इन्हें हमेशा से ही कृषि के प्रति बेहद लगाव लगा रहा है। इन्होंने लाखों विद्यार्थियों को कृषि की बारीकियां सिखाईं हैं। आपकी जानकारी के लिए बतादें कि डॉ हरिशंकर जी को बीमा सलाहकार समिति का सदस्य बनाया गया है। डॉ हरिशंकर गौड़ पूर्व में डीन एंड जॉइन्ट डायरेक्टर IARI नई दिल्ली, वाईस चांसलर सरदार बल्लभ भाई पटेल यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी और यह शारदा यूनिवर्सिटी में डीन एंड प्रोफेसर भी रहे हैं। वर्तमान में डॉ हरिशंकर गलगोटिया यूनिवर्सिटी में कार्यरत हैं। बतादें कि कृषि क्षेत्र पर इनकी काफी अच्छी पकड़ है। साथ ही, ये हेड ऑफ डिवीजन ऑफ नेमाटोलॉजी ICAR- IARI और प्रोजेक्ट कोर्डिनेटर (Nematology) भी रह चुके हैं।

ये भी पढ़ें:
किसानों के लिए फसल बीमा और उसके लाभ
डॉ हरिशंकर गौड़ ने दिल्ली युनिवर्सिटी से बेचलर ऑफ लॉज (LL.B.) CIVIL, CRIMINAL एंड ADMINISTRATIVE LAW जैसी डिग्रियां हांसिल की हैं। इसके अलावा उन्होंने ROTHAMSTED RESEARCH, UK से NEMATOLOGY की है। डॉ हरिशंकर गौड़ ने अपने जीवन काल में कृषि क्षेत्र को विशेष समय व तवज्जो और बेहद सकारात्मक योगदान दिया है। बतादें कि बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण अधिनियम, 1999 (1999 का 41) के अनुच्छेद 25 के उप-धारा (1) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए प्राधिकरण निम्नलिखित अधिसूचना द्वारा बीमा सलाहकार समिति का पुनर्गठन करता है। इस राजपत्र में समकुल 18 सदस्यों के नाम हैं। डॉ हरिशंकर भी इस सूची में शामिल हैं।

श्रेणी