गुजरात सरकार द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता के लिए ६३० करोड़ रुपये जारी करने की घोषणा

Published on: 01-Nov-2022

गुजरात राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में ६३० करोड़ रुपये प्रदान करने की घोषणा की गई है। प्रदेश सरकार के इस ऐलान से लगभग 8 लाख से ज्यादा किसानों को निश्चित रूप से लाभ होगा। गुजरे दिनों में मूसलाधार बारिश के चलते राजस्थान, उत्तर प्रदेश एवं महाराष्ट्र समेत गुजरात में भी किसानों की बेहद फसल बर्बाद हुई है। अत्यधिक बारिश के चलते किसानों की हजारों एकड़ फसल चौपट हो चुकी है, जिसके कारण किसान आर्थिक संकट से बचने के लिए सरकार से आर्थिक सहायता की मांग कर रहे हैं। इसी के मध्य यह भी खबर है, कि गुजरात सरकार ने शुक्रवार को २०२२ खरीफ सीजन के समय प्रचंड बरसात की वजह से फसल में हुई हानि की भरपाई के लिए आर्थिक सहायक पैकेज का ऐलान किया है। खबरों के हिसाब से, गुजरात सरकार ने सहायता पैकेज के रूप में ६३० करोड़ रुपये जारी करने की घोषणा की है। सरकार की इस घोषणा से लगभग ८ लाख से ज्यादा किसानों को जमीनी तौर पर लाभ होगा। सरकार द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक १४ जनपदों के किसानों के खेत खलियान में अत्यधिक जलभराव के चलते फसलों को काफी हानि हुई है। जिसके अंतर्गत तापी, सूरत, कच्छ, मोरबी, पोरबंदर, आणंद छोटा उदयपुर, नर्मदा, पंचमहल, नवसारी, वलसाड, डांग एवं जूनागढ़ जिले के 2554 गांवों के किसान सम्मिलित थे।

ये भी पढ़ें: इन राज्यों में हुई भयंकर तबाही, किसान सरकार से लगा रहे हैं गुहार

आर्थिक सहायता पैकेज से कितने हेक्टेयर फसल नुकसान की भरपाई हो पायेगी

राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) एवं राज्य के बजट से यह आर्थिक सहायता पैकेज लगभग ९.१२ लाख हेक्टेयर नुकसान ग्रस्त कृषि भूमि को लाभन्वित करेगा। मदद पैकेज में उन किसानों को सम्मिलित किया जाएगा, जिन्हें अपने खेतों में ३३ फीसदी से ज्यादा हानि हुई है। विशेष बात यह है कि किसानों को ६,८०० रुपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा मिलेगा। हालांकि, सहायता अधिकतम दो हेक्टेयर तक सीमित होने के साथ ही, केला उगाने वाले किसानों के लिए यह मदद अधिकतम दो हेक्टेयर के लिए अनुमानित ३०००० रुपये प्रति हेक्टेयर है।

बिहार राज्य सरकार द्वारा पहले चरण में ही ५०० करोड़ रुपये जनपदों के लिए भेजे जा चुके हैं।

साथ ही यह भी बता दें कि, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने धनतेरस के दिन प्रदेश के सूखाग्रस्त किसानों को खुशनुमा तोहफा दिया था। बिहार राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की थी, कि छठ पूजा से पूर्व इस साल सूखे के संकट से जूझ रहे प्रत्येक किसान परिवारों के बैंक खाते में ३५०० रुपये की सहायक धनराशि भेज दी जाएगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बोला था, कि पहले चरण में ५०० करोड़ रुपये जनपदों को जारी किये जा चुके हैं। हालाँकि, बिहार राज्य की राजधानी पटना में एक कार्यक्रम के चलते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रिमोट के द्वारा राशि जारी की। साथ ही, उन्होंने कहा कि यह दिवाली समस्त प्रदेशवासियों के लिए समृद्धि एवं खुशहाली प्रदान करे, भगवान से यही प्रार्थना करता हूँ।

श्रेणी