किसान कर लें अपना भी नाम चेक, नही तो वापस देना पड़ेगा पीएम किसान का पैसा

Published on: 09-Nov-2022

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan) के तहत हर किसान को प्रधानमंत्री की तरफ से सालाना ₹6000 की एक राशि दी जाती है। साल में 3 बार, 4 महीने के अंतराल पर ₹2000 किसान सम्मान निधि योजना के तहत सभी किसानों को, जो भी उसके लिए योग्य है, उनको दिया जाता है। उसी योजना के तहत अक्टूबर माह में तकरीबन आठ करोड़ किसान के खाते में सीधे डीबीटी के माध्यम से इस योजना की 12वीं किस्त का भुगतान कर दिया गया है। आपको बता दें कि इस अक्टूबर माह के भुगतान के अंतर्गत बहुत सारे किसान इस योजना से वंचित रह गए हैं, जिनका अक्टूबर माह का भुगतान उनके खाते में नहीं पहुंच पाया है। जानकारी के मुताबिक बता दें कि जिन किसानों का भुगतान उनके खाते में नहीं पहुंच पाया है, उनके लिए ज्यादा टेंशन की बात नहीं है। कहीं ना कहीं किसी प्रकार का त्रुटि रह गया है, जिसके कारण उनका भुगतान नहीं मिल पाया है। अक्सर यह पाया जाता है, कि आधार नंबर ईकेवाईसी या अन्य किसी प्रकार की गलती रह जाने के कारण योजना का लाभ किसानों तक नहीं पहुंच पाता है, और उनको सम्मान निधि योजना का लाभ नहीं मिल पाता है।

ये भी पढ़ें: कृषि सब्सिडी : किसानों को दी जाने वाली विभिन्न प्रकार की वित्तीय सहायता के बारे में जानें
गौरतलब हो कि इस योजना की 11वीं किस्त के भुगतान के दौरान किसानों की संख्या 10 करोड़ थी। वहीं इस बार किसानों की संख्या घटकर आठ करोड़ हो गई है, जिसका कारण भूलेखका सत्यापन अनिवार्य करना बताया जा रहा है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि बहुत सारे अपात्र किसान जो इस सम्मान निधि योजना के लिए योग्य नहीं थे। उन्होंने किसी फर्जी तरीके से प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना के तहत अपना रजिस्ट्रेशन कर इस योजना का लाभ उठा रहे थे। उनके पहचान के लिए केंद्र सरकार ने भूलेख का सत्यापन अनिवार्य कर दिया है और इस सत्यापन का असर यह दिखा की इस 12वीं किस्त के भुगतान के दौरान किसानों की संख्या 10 करोड़ से घटकर आठ करोड़ हो गई है। आपको यह भी बता दें कि अब जनवरी में इस योजना की 13वीं किस्त का भुगतान होना है, जिसके लिए केंद्र सरकार ने भूलेख सत्यापन जारी कर रखा है, और इस भूलेख सत्यापन से जो भी अपात्र किसान हैं, उन्हें इस योजना से वंचित कर दिया जाएगा। पिछले किस्त के उठाए गए लाभ की राशि का रिकवरी किया जाएगा। जो भी किसान को इस 12वीं किस्त का लाभ नहीं मिल पाया है, वहीं एक बार यह भी चेक कर लें की कहीं आपका नाम भी उस अपात्र किसान के लिस्ट में तो नहीं है। एक बार आप भी यह चेक कर लें कि कहीं आपका ईकेवाईसी के कारण या किसी भी गड़बड़ी के कारण आप इस योजना से वंचित तो नहीं रह गए हैं। सबसे पहले लाभार्थी का सूची देखने के लिए आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर चेक करना होगा कि आपका नाम अपात्र किसान में है या फिर किसी गड़बड़ी के कारण आपकी 12वीं किस्त का भुगतान नहीं हो पाया है। अगर आप भी नाम देखना चाहते हैं तो इस प्रक्रिया को फॉलो कर चेक करें। • सबसे पहले आपको नीचे दिए गए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा https://pmkisan.gov.in • फिर वह जो पेज खोलकर आएगा उसके दाहिने तरफ फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन में कई विकल्प होंगे जिसमें से आपको बेनिफिशियरी स्टेटस का विकल्प पर क्लिक करना है। • इस विकल्प पर क्लिक करते ही दो विकल्प और खुलकर सामने आएंगे जिसके एक में आधार नंबर और दूसरे में बैंक अकाउंट नंबर लिखा होगा। • उसमें से जो विकल्प चुना चाहे उसमें अपना आधार नंबर या अकाउंट नंबर दर्ज कर गेटरिपोर्ट पर क्लिक करें, आपको वहां से पूरा ब्यौरा मिल जाएगा। • पैसा किस कारण से आप खाता में नहीं आए हैं इसका भी पूरा ब्यौरा वहां आपको मिल जाएगा।

श्रेणी