जानें किसान कैसे असली और नकली घी की पहचान करें

Published on: 06-Jun-2023

असली देसी घी को केवल देखने भर से ही समझा जा सकता है। उसका रंग थोड़ा पीला अथवा सुनहरा होता है। वहीं, शुद्ध असली घी कभी भी स्मूथ टेक्सचर में नहीं आएगा, उसकी बनावट एक दम दानेदार होती है। आजकल बाजार के अंदर असली देसी घी के नाम पर लोगों को केवल मिलावटी घी खिलाया जा रहा है। कभी उसमें डालडा मिलाया जाता है, तो कभी पाम ऑयल और अब तो देसी घी में नारियल का तेल तक मिटावट कर बेचा जा रहा है। दरअसल, नारियल का तेल काफी मीठा होता है एवं ठंडा होने पर सहजता से घी की भांति जम जाता है। इस वजह से मिलावटखोर देसी घी में नारियल का तेल मिश्रित कर विक्रय कर रहे हैं। इसी संदर्भ में यह सवाल उठता है, कि आखिर हम असली देसी घी की पहचान किस प्रकार करें। आइए आपको बताते हैं, कि किसान असली देसी घी की पहचान कैसे करते हैं। दरअसल, किसान शुरू से शुद्ध देसी घी बनाते और खाते आए हैं। इस वजह से वह अपने तरीकों से असली घी की पहचान तुरंत कर लेते हैं।

शुद्ध व असली देसी घी की क्या पहचान होती है

असली देसी घी देखने में ही समझ आ जाता है, उसका रंग थोड़ा पीला या फिर सुनहरा होता है। असली घी कभी भी स्मूथ टेक्सचर में नहीं आता है, उसका एक दम दानेदार टेक्सचर होता है। दरअसल, यह दाने उसके सुनहरे भाग के मुकाबले में थोड़े सफेद होते हैं। इसके साथ ही, इसमें विभिन्न प्रकार की सुगंध होगी। हालांकि, वर्तमान में मिलावट खोर हर प्रकार की नकल करने लग गए हैं, घी को असली दिखाने के लिए इसमें सुगंध और प्रीजर्वेटिव्स का उपयोग करते हैं। इन प्रीजर्वेटिव्स के चलते यह नकली घी लंबे समय के लिए स्टोर करके रखे जा सकते हैं। गांव देहात में लोग अधिकांश शुद्ध देशी-घी का ही सेवन किया करते हैं। यह भी पढ़ें: खुशखबरी : तेलों की कीमतों में होने वाली है 10 रुपये तक की गिरावट

नकली घी को किस तरह पहचाना जा सकता है

आज हम आपको कई ऐसे तरीके बताएंगे जिनके जरिए से आप सहजता से नकली देसी घी की पहचान कर सकते हैं। यदि आपको यह लगता है, कि आपके घर में उपस्थित देसी घी नकली है, तो सर्वप्रथम आप एक चम्मच घी लेलें। उसे अपनी हथेली पर डालें व कुछ समय तक प्रतीक्षा करें, जिससे कि वह पिघल जाए। यदि आपका घी जल्दी पिघल गया है, तो इसका अर्थ घी असली है। परंतु, यदि इसे पिघलने में काफी देर लग रही है, तो समझ लीजिए कि इसमें मिलावट हुई है। क्योंकि, शुद्ध एवं असली देसी घी को शरीरिक तापमान के संपर्क में आते ही पिघलने में अधिक वक्त नहीं लगता है।

घी में नारियल के तेल की मिलावट का पता कैसे करें

देसी घी में नारियल के तेल की पहचान करना काफी मुश्किल काम होता है। दरअसल, नारियल का तेल देसी घी की भाँति ही जम कर सफेद हो जाता है एवं पिघलने पर पारदर्शी रहता है। ऐसे में घी में उपस्थित नारियल के तेल की जाँच करने का एकमात्र तरीका है, उस तरीके को डबल-बॉयलर मेथड के नाम से जाना जाता है। इसमें आपको सर्वप्रथम एक पैन में जल डाल कर गर्म करना होगा, इसके पश्चात उसके ऊपर दूसरे बाउल में घी रख कर गर्म करना होगा। जैसे ही घी पिघले इसे एक कंटेनर में निकाल कर कुछ देर के लिए फ्रिज में रख दें। यदि घी में नारियल का तेल की मिलावट होगी तो आप देखेंगे कि घी और नारियल का तेल भिन्न-भिन्न परत में जमे मिलेंगे।

श्रेणी