नींबू की प्रमुख किस्मों के विषय में जानें, जिनसे किसान अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं

Published on: 01-Aug-2023

आपकी जानकारी के लिए बतादें, कि नींबू एक प्रसिद्ध बागवानी फसल है। देश के लगभग हर घर में नींबू रसोई में पाया जाता है। आज हम इस लेख में आपको बताऐंगे नींबू की उन्नत किस्मों के संबंध में जिसकी उत्पादन क्षमता के साथ रस की मात्रा भी ज्यादा है। नींबू जिसकी मांग आज के समय में सबसे ज्यादा है। इसकी इतनी ज्यादा मांग की वजह से बाजार में नींबू के भाव भी काफी ज्यादा हैं। ऐसी स्थिति में अगर किसान भाई अपने खेत में नींबू की उन्नत खेती करते हैं, तो उन्हें काफी मुनाफा प्राप्त होगा। लेकिन इसके लिए किसान भाई के पास सटीक और बेहतर जानकारी का होना अत्यंत आवश्यक है। चलिए आज हम आपको नींबू की उन्नत किस्मों के संदर्भ में सही और विस्तृत रूप से जानकारी प्रदान करेंगे।

जानिए नींबू की उन्नत प्रजातियों के विषय में

आपकी जानकारी के लिए बतादें कि हमारे भारत में नींबू की विभिन्न प्रकार की किस्में पाई जाती हैं। परंतु, इन सभी में से कुछ ही किस्में किसानों को बेहतर मुनाफा कमाकर देती हैं। बतादें, कि इनके प्रमालिनी, कागजी नींबू, विक्रम किस्म का नींबू इत्यादि शामिल हैं। आइए जानते हैं, एक-एक करके इन किस्मों के संबंध में।

ये भी पढ़ें:
नींबू की खेती से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी

कागजी नींबू (Paper lemon)

कागजी नींबू की यह प्रजाति भारत के तकरीबन समस्त राज्यों के कृषकों के द्वारा उत्पादित की जाती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस प्रकार के नींबू में 52 प्रतिशत रस की मात्रा होती है। किसानों के द्वारा इस नींबू की व्यापारिक तौर पर खेती नहीं की जाती है।

प्रमालिनी (Pramalini)

यह किस्म किसानों के द्वारा व्यापारिक तौर पर उगाई जाती है। यह पेड़ पर एक गुच्छों में उगते हैं, प्रमालिनी नींबू का उत्पादन अन्य नींबू की तुलना से काफी ज्यादा होता है। साथ ही, इसमें रस की मात्रा भी 57 प्रतिशत तक होती है।

ये भी पढ़ें:
अगस्त महीने में खेती किसानी से संबंधित अहम कार्य जिनसे किसानों को होगा बेहतरीन फायदा

विक्रम किस्म (Vikram variety)

यह नींबू भी गुच्छों के रूप में उगते हैं। बतादें, कि इस किस्म का सर्वाधिक उत्पादन किया जात है। इस वजह से किसान इस नींबू की खेती बेहतरीन मुनाफा कमाने के उद्देश्य से सबसे ज्यादा करते हैं। इस किस्म के एक गुच्छे के माध्यम से नींबू की मात्रा 7 से 10 तक पाई जाती है। यदि देखा जाए तो विक्रम किस्म नींबू के पेड़ पर संपूर्ण वर्षभर पैदावार देखने को मिलती है। आपकी जानकारी के लिए बतादें, कि जब हमारी टीम ने भारत के किसान भाई से बात की तो उन्होंने बताया कि हमारे भारत में किसानों के द्वारा नींबू की भिन्न-भिन्न प्रजातियां भी उत्पादित की जाती हैं। जैसे कि- दार्जिलिंग (दार्जिलिंग क्षेत्र), खासी (मेघालय क्षेत्र), रंगपुर नींबू, बारामासी नींबू, चक्रधर नींबू, पी.के.एम.1 नींबू, मैंडरिन ऑरेंज: कुर्ग (कुर्ग और विलीन क्षेत्र), नागपुर (विदर्भ क्षेत्र) इत्यादि हैं।

श्रेणी