मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना क्या है और यह किसानों के लिए कितनी लाभकारी है

By: Merikheti
Published on: 15-Dec-2023

किसानों की आर्थिक मदद के लिए झारखंड सरकार मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना चलाई जा रही है। इस योजना के माध्यम से राज्य के लाखों कृषकों को फयदा प्रदान किया जा रहा है।  कृषकों के हित के लिए विभिन्न योजनाएं जारी की जा रही हैं। ये योजनाएं केंद्र एवं राज्य सरकार की तरफ से संचालित की जाती हैं। ऐसी ही एक योजना झारखंड सरकार की तरफ से जारी की जा रही है, जिसे मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के नाम से जाना जाता है। ये योजना प्रदेश भर के छोटे एवं सीमांत कृषकों को वित्तीय मदद प्रदान करने के लिए चलाई जा रही है। इस योजना के माध्यम से सरकार 5 एकड़ अथवा उससे कम कृषि भूमि वाले कृषकों को प्रति वर्ष 5 हजार रुपये प्रति एकड़ के आधार पर धनराशि हस्तांतरित करती है।

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का मकसद 

इस योजना का प्रमुख उद्देश्य कृषकों की आमदनी बढ़ाना है। साथ ही, उन्हें कृषि कार्यों के लिए जरूरी धन मुहैय्या कराना है। योजना के अंतर्गत लाभार्थी कृषकों को प्रति वर्ष एक बार 5000 रुपये की धनराशि सीधे उनके बैंक खातों में ट्रांसफर की जाती है। योजना का फायदा पाने के लिए आवेदक को संबंधित जिला कृषि कार्यालय में आवेदन करना पड़ेगा। आवेदन पत्र में आवेदक का नाम, पता, आधार संख्या, बैंक खाता संख्या तथा अन्य आवश्यक जानकारी शम्मिलित होनी चाहिए। कृषि आशीर्वाद योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने वाले किसान भाई घर बैठे लाभार्थी सूची में अपना नाम सहजता से जाँच कर सकते हैं। इस योजना से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए किसान भाई आधिकारिक साइट msy.jharkhand.gov.in की मदद ले सकते हैं।

ये भी पढ़ें:
अब इस स्कीम के तहत किसानों को मिलेगी 5 हजार रुपये की सहायता राशि, ये किसान होंगे पात्र

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की क्या-क्या पात्रता है 

  • आवेदक को झारखंड का मूल निवासी होना चाहिए। 
  • आवेदनकर्ता के पास 5 एकड़ या उससे कम कृषि योग्य जमीन होनी चाहिए। 
  • आवेदक का नाम भूमि अभिलेखों के अंतर्गत दर्ज होना चाहिए। 
  • मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना से क्या लाभ मिलता है 
  • किसान भाइयों को कृषि कार्यों के लिए आवश्यक धन उपलब्ध होता है। 
  • किसानों की आमदनी में इजाफा होता है। 
  • किसानों को कृषि कार्यों में काफी प्रोत्साहन मिलता है। 

श्रेणी