बिहार डेयरी एंड कैटल एक्सपो 2023 में 10 करोड़ के भैंसे ने लूटी महफिल

Published on: 25-Dec-2023

गुरुवार से बिहार की राजधानी पटना में बिहार डेयरी एंड कैटल एक्सपो 2023 की तीन दिवसीय प्रदर्शनी लगाई गई थी। इस एक्सपो में डेयरी एवं पशुपालन से संबंध रखने वाली दर्जनों कंपनियों के स्टॉल स्थापित किए गए हैं। इसी बीच एक भैंसा भी काफी चर्चा में बन गया है। सोशल मीडिया पर अब इसकी तस्वीर भी बड़ी तेजी से वायरल होती जा रही है। इस भैंसे की कीमत 10 करोड़ रुपये के आसपास तय की गई है। हरियाणा से पटना पहुंचा भैसा गोलू -2 अपने डेयरी फॉर्म में एसी रूम में रहता है। खाने के साथ-साथ गोलू पांच किलो सेब, पांच किलो चना तथा बीस किलो दूध हर रोज पीता है। दो लोग हर रोज इसका मसाज करते हैं। हरियाणा से आए किसान ने इस बात की जानकारी भी दी है।

गोलू भैंसा मुख्य रूप से कहा से आया था 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस गोलू नाम का यह भैंसा हरियाणा से पटना लाया गया है। यह भैंसा मुर्रा नस्ल का है। भैंसे के मालिक का कहना है, कि भैंसे की कीमत 10 करोड़ रुपये के आसपास है। इसके लिए भैंस के मालिक नरेंद्र सिंह को राष्ट्रपति से पद्मश्री भी मिल चुका है। इस भैंस का इस्तेमाल प्रजनन के लिए किया जाता है। 10 करोड़ रुपये की कीमत वाले भैंसे के मालिक नरेंद्र सिंह ने कहा है, कि वह भैंसा को प्रतिदिन साधारण चारा खिलाते हैं। भैंसा पर हर महीने करीब 50 से 60 हजार रुपये खर्च होते हैं। ये कीमती भैंसा पहले भी कई किसान मेलों में जा चुका है।

ये भी पढ़ें:
अब खास तकनीक से पैदा करवाई जाएंगी केवल मादा भैंसें और बढ़ेगा दुग्ध उत्पादन

गोलू-2 भैंसा उनके घर की तीसरी पीढ़ी माना जाता है 

किसान ने बताया कि 6 वर्ष का भैंसा गोलू-2 उनके घर की तीसरी पीढ़ी है। इसके दादा पहली पीढ़ी थे, जिसका नाम गोलू था। उसका बेटा बीसी 448-1 को गोलू-1 कहा जाता था। यह गोलू का पोता है, जिसका नाम गोलू- 2 रखा गया है। किसान ने बताया- हमारी कोशिश है कि देश भर के किसान ऐसे भैंसे से लाभ उठा सकें। सोशल मीडिया पर अब इस भैंसे की खूब चर्चा है। 

श्रेणी